Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव अतिलघु उत्तरीय प्रश्न | with best simple paper 2022

Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव अतिलघु उत्तरीय प्रश्न best simple paper 2022

Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव अतिलघु उत्तरीय प्रश्न

  1. चुम्बक के उत्तर तथा दक्षिण ध्रुव को मिलानेवाली रेखा को क्या कहते हैं ?

उत्तर:- चुम्बक के उत्तर तथा दक्षिण ध्रुव के मिलानेवाली रेखा को चुम्बकीय अक्ष कहते हैं।

2.चुम्बक के सिरे के निकट का वह बिंदु जहाँ चुम्बक का आकर्षण बल सबसे अधिक होता है उसे क्या कहते हैं?

उत्तर-चुम्बक के सिरे के निकट जहाँ आकर्षण बल अधिक होता है उसे ध्रुव कहते हैं किसी चुम्बक में दो ध्रुव उत्तरी ध्रुव तथा दक्षिणी ध्रुव होता है।

  1. क्या दो चुम्बकीय रेखाएँ एक-दूसरे को काट सकती है ? .

उत्तर- नहीं, दो चुम्बकीय रेखाएँ एक दूसरे को कभी-भी नहीं काट सकती है।

4.चुंबक के निकट लाने पर दिक्सूचक की सुई विक्षेपित क्यों हो जाती है? .

उत्तर:–दिक्सूचक की सूई एक छोटी छड़ चुम्बक होती है जिसके दोनों सिरे उत्तर और दक्षिण दिशाओं की ओर संकेत करते हैं। चुंबक के विपरीत सिरे एक-दूसरे को आकर्षित करते हैं और इसी कारण समान सिरे विकर्षित करते हैं। किसी चुंबक के निकट लाने पर उसका चुंबकीय बल चुंबकीय सूई के ध्रुवों पर बल लगाता है और इसीलिए दिक्सूचक की सूई विक्षेपित हो जाती है। उसका उत्तरी सिरा चुंबक के दक्षिणी सिरे की तरफ तथा दक्षिणी सिरा उत्तरी सिरे की ओर घूम जाता है।

5.ओस्टैंड के प्रयोग में चुंबकीय सूई के विचलन की दिशा किन-किन बातों पर निर्भर करती है?

उत्तर-ओर्टेड के प्रयोग में चुंबकीय सूई के विचलन की दिशा निम्नलिखित बातों पर निर्भर करती है

(i) धारा की दिशा।

(ii) चुम्बकीय सूई की स्थिति।

  1. परिनालिका किसे कहते हैं ?

उत्तर:- यह काँच या गत्ता का एक ऐसा खोखला, बेलनाकार नली है जिसके ऊपर तार लपेटकर विद्युत धारा प्रवाहित करने पर छड़ चुम्बक जैसा कार्य करता है।

  1. क्रोड किसे कहा जाता है ?

उत्तर-परिनालिका जिस पदार्थ पर लिपटी होती है, उसे क्रोड कहा जाता है।

8.चुंबकीय क्षेत्र के तीन स्रोतों की सूची बनाइए।

उत्तर-(क) एक प्राकृतिक चुंबक के चारों तरफ चुंबकीय क्षेत्र होता है।

(ख) एक धारावाही सीधा चालक के चारों तरफ चुंबकीय क्षेत्र होता है।

(ग) एक धारावाही परिनालिका के चारों तरफ चुंबकीय क्षेत्र होता है। .

9.किसी चुंबकीय क्षेत्र में स्थित विद्युत-धारांचाही चालक पर आरोपित बल कब अधिकतम होता है ?

 उत्तर-किसी चुंबकीय क्षेत्र में स्थित विद्युत धारावाही चालक पर आरोपित बल तब अधिकतम होता है जब विद्यत धारा की दिशा चम्बकीय क्षेत्र की दिशा के लम्बवत होती है।

  1. विद्युत चुंबकीय प्रेरण किसे कहते हैं ?

उत्तर-वह प्रक्रम जिसके द्वारा किसी चालक के परिवर्ती चुंबकीय क्षेत्र के कारण किसी अन्य चालक में  विद्युत धारा प्रेरित करती है। इसे विद्यत चुंबकीय प्रेरण कहा जाता है।

11.विद्युत मोटर में ऊर्जा का रूपांतरण कैसे होता है?

 

उत्तर :- विद्युत मोटर एक ऐसा यंत्र है जिसके द्वारा विद्युत ऊर्जा को यांत्रिक ऊर्जा में परिवर्तित

किया जाता है।

  1. ऐसी कुछ युक्तियों के नाम लिखिए जिनमें विद्युत मोटर का उपयोग किया जाता है |

उत्तर:-

(A) विद्युत पंखों, (b) रेफ्रिजरेटरों, (c) कूलरों, (d) वाशिंग मशीनो प्लेषरों।

  1. विद्युत मोदर का क्या सिद्धांत है ?

उत्तर- जब अनेक कुंडलियों से युक्त धारा का संवहन एक आयताकार कुंडली को  शक्तिशाली चुंबकीय क्षेत्र में रखा जाता है तो यह यांत्रिक बल का कार्य है। यह सिद्धांत पूर्ण रूप से गैल्वेनोमीटर तथा अन्य विद्युत उपकरणों की यह फ्लेमिंग के बायें हाथ सिद्धांत पर आधारित है।

  1. विद्युत जनित्र क्या है ?

उत्तर- विद्युत जनित्र एक ऐसा यंत्र है जिसके द्वारा यांत्रिक  ऊर्जा को विद्यत उर्जा परिवर्तित  की जाता है।

  1. विद्युत जनित्र का सिद्धांत लिखिए।

उत्तर-विद्युत जनित्र  का सिद्धांत विद्युत चुंबकीय प्रेरण पर आधारित है। जब किसी कुंडली को  तीव्र चुंबकीय क्षेत्र में घुमाया जाता है तो कुण्डली से संबंधित चुंबकीय बल रेखा में परिवर्तन होता है जिसके फलस्वरूप कुण्डली में प्रेरित धारा प्रवाहित होने लगती है। दिशा फैराडे के दाहिने हाथ के नियम से ज्ञात की जा सकती है।

  1. विद्युत जनित्र का क्या उपयोग है?

उत्तर-विद्युत जनित्र का उपयोग घरों एवं व्यावसायिक स्थानों में विद्युत उपस्करणों को चलाने में किया जाता है।

17.दिष्ट धारा के कुछ सोतों के नाम लिखिए।

उत्तर-दिष्ट धारा के कुछ स्रोतों के नाम ये हैं

(a) शुष्क सेल, (b) बटन सेल, (c) लेड बैटरियों, (d) डी सी जनित्र।

  1. प्रत्यावर्ती विद्युत धारा उत्पन्न करनेवाले स्रोतों के नाम लिखिए।

उत्तर-प्रत्यावर्ती विद्युत धारा उत्पन्न करनेवाले स्रोतों के नाम ये हैं- .

(a) नाभिकीय ऊर्जा संयंत्रों के जनित्र, (b) थर्मल पॉवर (c) प्लांट, (d) जलीय पावर स्टेशन आदि। ___

19.विद्युन्मय, उदासीन तथा भू-तारों के विद्युतरोधी आवरण सामान्यतः किस-किस रंग के होते हैं?

उत्तर-विद्युन्मय लाल रंग के, उदासीन काले रंग के तथा भू-तारें हरे रंग के होते हैं।

20.किसी विद्युत-परिपथ में लघुपथन कब होता है? 

उत्तर-किसी विद्युत यंत्र में जब धारा कम प्रतिरोध से होकर प्रवाहित हो जाती है तो उस लघुपथन कहते हैं। इस स्थिति में किसी परिपथ में विद्युत धारा अचानक बहुत अधिक हो जाता है जब विद्युत पथ में विद्युन्मय तार उदासीन तार के सम्पर्क में आ जाती है तो प्रतिरोध के शून्य  हो जाने के कारण ऐसा होता है। लवपथन के कारण आग लग सकती है और विद्युत पार में लगे उपकरण क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। इससे बचने के लिए विद्युत फ्यूज का प्रयोग चाहिए।

  1. भूसंपर्क तार का क्या कार्य है? .

उत्तर- भूसंपर्क तार हरे रंग के विद्युतरोधी आवरण से ढंकी रहनेवाली वह सुरक्षा घर के निकट भूमि के भीतर बहुत गहराई पर दबी धातु की प्लेट से संयोजित रहता है| यह तार विद्युत धारा के लिए अल्प प्रतिरोध का चालन पथ प्रस्तुत करती है। किसी विद्युत क्षरण होने की अवस्था पर साधित्र का विभव भूमि के विभव के बराबर हो जाता है जिसके परिणामस्वरूप साधित्र का उपयोग करनेवाले व्यक्ति को तीव्र विद्युत आघात से सुरक्षा हो जाती है।

  1. घरेलू कार्यों के लिए व्यवहार की जानेवाली बिजली क्या है?

उत्तर-मेन लाइन पावर। इसे 220V,50Hz कहते हैं।

  1. घरों के विद्युत-परिपथ में विद्युत उपकरण किस क्रम में जोड़े जाते हैं ?

उत्तर-समांतर क्रम में (Parallel Series)

24.मुख्य धारा में वोल्टता का अधिकतम मान जिसके लिए प्यूजपिघल जाता है. वह पयूज के किस गुण को निर्धारित करता है?

उत्तर-फ्यूज का उपयोग निम्न या उच्च वोल्टता को नियंत्रित करने के लिए किया जाता है अर्थात् उच्च वोल्टता होने पर फ्यूज पिघल जाता है तथा वायरिंग के तार की सुरक्षा हो जाती है अत: यह सुरक्षात्मक गुण को दर्शाता है। जिसे फ्युज की क्षमता भी कहते हैं।

  1. क्या मैक्सवेल के दक्षिण-हस्त नियम में मुट्ठी की अंगुलियों को दिशा चुबकीय क्षेत्र की दिशा को प्रदर्शित करती है?

उत्तर-हाँ, मैक्सवेल के दक्षिण-हस्त नियम में मुट्ठी की अंगुलियों को दिशा चुंबकीय क्षेत्र की दिशा को प्रदर्शित करती है?

अतिलघु उत्तरीय प्रश्न Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव

  1. विद्युत धारा से उत्पन्न होने वाले दो प्रमुख प्रभाव लिखिए।

उत्तर-चुंबकीय प्रभाव, ऊष्मा प्रभाव।

  1. उत्तर दिशा की ओर संकेत करने वाले चुंबकीय सिरे को क्या कहते है

उत्तर-उत्तरोमुखी ध्रुव या उत्तर ध्रुव।

  1. दक्षिण दिशा की ओर संकेत करने वाले चुंबकीय सिरे को क्या करते

उत्तर-दक्षिणोमुखी ध्रुव या दक्षिण ध्रुवा

  1. किस बल के कारण लौह-चूर्ण एक पैटर्न में व्यवस्थित हो जाता

उत्तर-चुंबकीय बल के कारण।

5.चुंबकीय क्षेत्र कैसी राशि है?

उत्तर-जिसमें परिमाण और दिशा दोनों होते हैं। 6.चिकित्सा क्षेत्र में विद्युत चुंबकीय प्रभाव कहाँ मनुक्त किया गया है?

उत्तर-MRI (मैगनेटिक रेजोनेंस इमेजिंग) में।

7.धुंबकीय क्षेत्र को जानने का क्या अच्छा तरीका है? उत्तर-चुंबकीय बल रेखाओं के अध्ययन से।

8.चुंबकीय क्षेत्र की आपेक्षिक प्रबलता अधिकतम कहाँ होती है?

उत्तर-चुंबक के ध्रुव पर।

  1. परितालिका में लोहे की छड़ रखने से क्या हो जाता है ?

उतर-विद्युत क्षेत्र की शक्ति बढ़ जाती है।

  1. परिनालिका में लपेटों की संख्या बढ़ाने से इसकी चुंबकीय शक्ति पर क्या प्रभाव पड़ता है .

उत्तर-चुंबकीय शक्ति बढ़ जाती है।

  1. परिनालिका में विद्युत धारा प्रवाह बंद करने पर क्या होता है ?

उत्तर -चुंबकीय प्रभाव समाप्त हो जाता है।

  1. यदि परिनालिका के सिरे पर विद्युत धारा की दिशा दक्षिणावर्त हो तो वह सिरा कौन-सा ध्रुव बन जाता है ? .

उत्तर-दक्षिणी ध्रुवा

  1. किसी परिनालिका का वह सिरा जिसमें धारा का प्रवाह वामावर्त हो तो वह विद्युत चुंबकत्व के किस धुव को प्रकट करेगा?

उत्तर-उत्तरी ध्रुव।

  1. परिनालिका में धारा की दिशा बदलने पर क्या प्रभाव पड़ता है। उत्तर-ध्रुवों की स्थिति परस्पर बदल जाती है।

15: परिनालिका के भीतर चुंबकीय बल रेखाएँ किन रेखाओं की भांति होती है  

उत्तर-समानांतर सरल रेखाओं की भाँति।

16.किसी परिनालिका के बीच सभी बिंदुओं पर चुंबकीय क्षेत्र कैसा होता है ?

उत्तर सभी बिंदुओं पर चुंबकीय क्षेत्र एक समान होता है। 17.विद्युत की शक्ति किन-किन बातों पर निर्भर करती है?

उत्तर-   1. विद्युत धारा की शक्ति पर

  1. कुंडली में तारों की लपेटों की संख्या पर
  2. चुंबक के रूप में।
  3. मानव शरीर के किन दो भागों में चुंबकीय क्षेत्र का उत्पन्न होना महत्वपूर्ण होता है?

उत्तर-हदय और मस्तिष्क।

bharati bhawan class 10 physics solution, Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव
bharati bhawan class 10 physics book, Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव

१९. नाल चुंबक तथा दंड चुंबक में कौन-सी चुंबकीय पदार्थों को अधिक शक्ति से आकर्षित करती है और क्यों ?

उत्तर-नाल चुंबक अधिक शक्तिशाली होती है क्योंकि इसके दोनों ध्रुव पास-पास होते हैं।

  1. कोई दो बल रेखाएँ आपस में एक-दूसरे को क्यों नहीं काटती हैं?

उत्तर:- कोई दो बल रेखाएँ आपस में एक-दूसरे को नहीं काटतीं क्योंकि यदि वे काटें तो इसका तात्पर्य यह होगा कि कटान बिंदु पर उत्तरी ध्रुव पर लगा परिणामी बल दो दिशाओं में होगा जो कि असंभव है।

  1. कौन-से ध्रुव परस्पर आकर्षण करते हैं और कौन-से प्रतिकर्षण करते हैं ?

उत्तर-चुंबक के विपरीत ध्रुव परस्पर आकर्षण करते हैं तथा समान ध्रुव प्रतिकर्षण करते हैं।

  1. नाल चुंबक अधिक शक्तिशाली क्यों होता है।

उत्तर-दोनों ध्रुव पास-पास होते हैं।

  1. फ्यूज किस मिश्र धातु का बना होता है। इसकी क्या विशेषता होनी चाहिए।

उत्तर-फ्यूज सीसा और टिन से बनी मिश्र धातु का होता है। इसका गलनांक कम होना चाहिए।

  1. घरों में विद्युत दुर्घटना विद्युत परिपथ में किस कारण से होती है? उ

त्तर-शॉर्ट सर्किट के कारण।

  1. विद्युत परिपथ को ठीक करने के लिए किस चीज से बने हुए दस्ताने पहनने चाहिए?

उत्तर-रबड़ के बने दस्ताने।

  1. ट्रांसफार्मर किसे कहते हैं ?

उत्तर-विद्युत की वोल्टता को अधिक या कम करने वाले उपकरण को ट्रांसफार्मर कहते हैं।

27.किसी चुंबक द्वारा उत्पन्न चुंबकीय क्षेत्र की दिशा किसी बिन्दु पर किस प्रकार ज्ञात कर सकते हैं?

उत्तर-चुंबकीय क्षेत्र के उस बिन्दु पर दिक्सूचक सूई को रखते हैं। दिक्सूचक सूई के उत्तरी ध्रुव की दिशा चुंबकीय क्षेत्र की दिशा को दर्शाती है।

  1. चुंबकीय क्षेत्र रेखाओं की दिशा क्या होती है? . … उत्तर-चुंबक के चुंबकीय क्षेत्र की दिशा चुंबक के उत्तरी ध्रुव से दक्षिण ध्रुव की ओर बंद वक्र के समान होती है।
  2. चुंबकीय क्षेत्र रेखाएँ अधिक संख्या में कहाँ होती है? .उत्तर-चुंबकीय क्षेत्र रेखाएँ ध्रुवों पर ज्यादा सघन होती हैं।
  3. 3 क्या होगा यदि धारावाही चालक में धारा की दिशा को उल्टा कर दिया ।

उत्तर-दिक्सूचक सूई की भुजाओं में विक्षेपण की दिशा उल्टी हो जाएगी।

  1. यदि सीधे तार में प्रवाहित विद्यत धारा की दिशा को उत्क्रमित कर दिया जाए तो क्या चुम्बकीय क्षेत्र रेखाओं की दिशा भी उत्क्रमित हो जाएगा?

उत्तर-चुंबकीय क्षेत्र रेखाओं की दिशा भी उत्क्रमित हो जाएगी।

  1. एक सीधे धारावाही चालक के चारों तरह चुम्बकीय क्षेत्र की प्रकृति क्या होती है

:- ये संकेन्द्रीय वृत्ताकार रेखाएँ होती है |

  1. ये संकेन्द्रीय वृत्ताकार रेखाएँ क्या निरुपित करते हैं ?

उत्तर :- ये विद्युत क्षेत्र रेखाएँ को दर्शाती है

34.किसी बिंदु पर चुबकिय क्षेत्र की दिशा कैसे ज्ञात कर सकते है

उत्तर:- जिस बिंदु पर चुम्बकीय क्षेत्र की दिशा ज्ञात करनी होती है उस बिंदु पर एक दिक्सूचक सुई रखते हैं| दिक्सूचक सुई की उत्तरी द्रव की दिशा चुम्बकीय क्षेत्र को दर्शाती है

उत्तर हो सकतीय चाकार रेखाएँ होती है।।

सचर में जकीय मोन रेखाग को दर्शाती है।

35.. चुम्बकीयो की इकाई क्या है?

उत्तर :- टेसला ।

  1. चम्बकीय फ्लक्स का SI मात्रक क्या है?

उत्तर वेबर ।

  1. सीधी धारा के कारण उत्पन्न चुम्बकीय बल रेखाएँ कैसी होती हैं।

उत्तर सकेन्द्री वृत्तों  के रूप में।

  1. पलेमिंग के दाएं हाथ के नियम से किसकी दिशा ज्ञात होती है?

उत्तर प्रेरित.धारा की दिशा।।

  1. पलेमिंग के बाएं हाथ के नियम से किसकी दिशा ज्ञात होती है ?

उत्तर चालक की गति की दिशा। ।

bharti bhawan books class 10 physics, Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव 
bharti bhawan physics class 10 in hindi pdf download
  1. घरेलू परिपथ में अतिभारण तथा लघुपथन से बचने के लिए क्या उपाय किया जाता है?

उत्तर-फ्यूज तार का प्रयोग किया जाता है ?

  1. फ्यूज तार किन धातुओं से बना होता है।

उत्तर-टिन, ताँबा।

  1. फ्यूज तार को लाइन तार से श्रेणीक्रम या पार्श्वबद्ध जोड़ना चाहिए?

उत्तर श्रेणीक्रम में।

  1. ओस्टैंड के प्रयोग का निष्कर्ष क्या है?

उत्तर- धारावाही विद्युत तार के साथ चुम्बकीय क्षेत्र संबद्ध रहता है।

  1. 4 कौन सी युक्ति है जो विद्युत ऊर्जा को यांत्रिक ऊर्जा में रूपांतरित कर देती है।

उत्तर विद्युत मोटर।

  1. कौन सा संयंत्र है जो यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में रूपांतरित कर देता है।

उत्तर-विद्युत जनित्र।

  1. 46. विद्युत धारा उत्पन्न करने के लिए प्रयुक्त युक्ति (यंत्र) को क्या कहत

उत्तर-जनित्र।

  1. घरों में प्रयोग होने वाले उपकरण मेंस से किस क्रम में जोड़े जाते हैं ।

उत्तर समान्तर क्रम में। .

  1. धारावाही वृत्ताकार चालक के दो विपरीत बिन्दुओं पर उत्पन्न चुंबकाया प्रकृति में अनार बताइए।

उत्तर दोनों ही बिन्दुओं पर उत्पन्न चुंबकीय क्षेत्र रेखाओं की दिशा विपरीत होती हैं| इन दोनों  बिन्दुओं पर उत्पन्न चुंबकीय क्षेत्र रेखाएँ संकेन्द्रीय वृत्ताकार होती है। 49. धारावाही वृत्ताकार चालक द्वारा उत्पन्न चुंबकीय क्षेत्र का मान सबसे अधिक  कहाँ होता है।

. उपर-धारावाही वृत्ताकार चालक के केन्द्र पर चुंबकीय क्षेत्र का मान सबसे अधिक होता है

50.किसी दिए गए क्षेत्र में चुंबकीय क्षेत्र एकसमान है। इसे निरूपित करने के लिए :

Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव

चित्र : परिनालिका के अन्दर चुंबकीय क्षेत्र रेखाएँ परस्पर समानान्तर होती हैं। इसलिए परिनालिका के अन्दर चुंबकीय क्षेत्र एक समान होता है।

51.जब एक धारावाही चालक को चुंबकीय क्षेत्र में रखा जाता है तो क्या होता है ?.

उत्तर- जब चुंबकीय क्षेत्र में धारावाही चालक को रखते हैं. तो उस पर एक बल आरोपित होता है।

  1. उस नियम का मात्र नाम लिखो जिसकी मदद से धारावाही.चालक पर चुंबकीय क्षेत्र में लगने वाले बल की दिशा ज्ञात करते हैं। .

उत्तर- फ्लेमिंग के वाहमहस्त का नियम।

53.किन कारकों पर चालक पर आरोपित बल का मान निर्भर करता हैं ?

उत्तर- (क) चुंबकीय क्षेत्र के मान पर।

(ख) चालक की लम्बाई पर।

(ग) चालक में प्रवाहित धारा के मान पर।

  1. घरों और कारखानों में दी जाने वाली प्रत्यावर्ती धारा की वोल्टता कितनी होती है ?

उत्तर- घरों में वोल्टता की धारा 220 तथा कारखानों में 440 होती है। .

  1. डायनेमो क्या कार्य करता है?

उत्तर- यांत्रिक ऊर्जा को विद्युत ऊर्जा में बदलता है।

  1. उच्चयन किसे कहते हैं ?

उत्तर- वोल्टता में वृद्धि करने की क्रिया को।

37.वोल्टेज स्थापक किस काम आता है ?

उत्तर- वांछित विभव स्थापित करने के काम। . 58.फ्यूज कैरियर क्या होता है ?

उत्तर- यह चीनी मिट्टी का एक खोल होता है जिसमें ताँबे के दो प्वाइंट होते हैं। इन दोनों को फ्यूज की तार द्वारा जोड देते हैं। इस खोल को फ्यूज कैरियर कहते हैं।

  1. कल-कारखानों में ब्रेकर का क्या काम होता है? • उत्तर- विद्युत यंत्रों की अधिक विद्युत से रक्षा करना।। 60. फ्यूज में प्रयक्त होने वाली मिश्रधातु सीसे और टिन की क्यों होती है?

उत्तर- कम गलनांक के कारण।

  1. विद्युत चुंबकीय प्रेरण किसे कहते हैं ?

उत्तर- चुबकीय प्रभाव से विद्युत प्रभाव की उत्पादकता को विद्युत चुंबकीय प्रेरण कहते हैं।

  1. मुद्रिका बिजली वितरण व्यवस्था किन कारणों से अच्छी मानी जात

उत्तर:- यह अधिक सुरक्षित, लगाने में सरल और अपेक्षाकृत सस्ती विद्यत विवरण व्यवस्था है  

  1. दो प्रकार के जनित्र कहाँ कहाँ प्रयुक्त होते हैं?

उत्तर- A.C. जनित्र उद्योगों तथा पॉवर हाऊसिज में और D.C. जनित्र का होता है।

  1. विद्युत मोटर का उपयोग कहाँ-कहाँ किया जाता है?

उत्तर- विद्युत पंखों, रेफ्रिजरेटरों, विधुत मिश्रकों, वाशिंग मशीनों, कंप्यटो आदि में।

  1. व्यावसायिक मोटरों में कौन-से चुंबक प्रयुक्त किए जाते हैं ?

उत्तर- विद्युत चुंबक।

  1. 6 नर्म लोह कोड और कुंडली को मिलाकर क्या कहते हैं ?

उत्तर- आर्मेचर।

  1. गैल्वेनोमीटर किसे कहते हैं ?

उत्तर- गैल्वेनोमीटर एक ऐसा उपकरण है जो किसी परिपथ में विद्युत धारा की पर संसूचित करता है।

  1. विद्युत चुंबकीय प्रेरण किसे कहते हैं?

उत्तर- वह प्रक्रम जिसके द्वारा किसी चालक के परिवर्ती चुंबकीय क्षेत्र के कारण अन्य जा में विद्युत धारा प्रेरित होती है, उसे विद्युत चुंबकीय प्रेरण कहते हैं।

  1. प्रत्यावर्ती धारा (ac) किसे कहते हैं?

उत्तर-ऐसी विद्युत धारा जो समान काल-अंतरालों के पश्चात् अपनी दिशा में परिवर्तन कर लेती है उसे प्रत्यावर्ती धारा कहते हैं।

  1. किस विद्युत धारा में समय के साथ दिशा में परिवर्तन नहीं होता?

उत्तर-दिष्ट धारा (dc)।

71.दिष्टधारा जनित्र (dc) में कैसी विद्युत धारा उत्पन्न होती है?

उत्तर- एक दिशिक विद्युत धारा।

  1. सभी आधुनिक विद्युत शक्ति संयंत्र कैसी विद्युत धारा उत्पन्न करते हैं ?

उत्तर-प्रत्यावर्ती विद्युत धारा।

  1. हमारे देश में उत्पादित प्रत्यावर्ती विद्युत धारा कितनी देर बाद अपनी दिशा उत्क्रमित करती है ?

and

उत्तर- हर  \frac{1}{100} सेकेंड के बाद।

  1. प्रत्यावर्ती धारा (ac) की आवृति क्या है ?

उत्तर-50 हर्ट्स।

bharti bhawan class 10 physics solution in hindi, Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव 
bharti bhawan class 10 physics solution in hindi pdf download.Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव
  1. ac का महत्वपूर्ण लाभ क्या है ? .

उत्तर- इसे बिना क्षय के सुदूर स्थानों तक प्रेषित किया जा सकता है।

  1. क्या होगा यदि चुंबकीय क्षेत्र में रखे चालक में प्रवाहित धारा की दिशा दिशा में प्रवाहित किया जाए?

उत्तर-चालक पर आरोपित बल की दिशा विपरीत दिशा में हो जाएगी।

67 | निम्नलिखित में से कौन-सा गुण किसी चुंबकीय क्षेत्र में मुक्त गति करते समय परिवर्तित हो जाती है ? (यहाँ एक से अधिक सही उत्तर हो सकते हैं।(a)द्रव्यमान (b ) चाल, (c ) वेग, (d) संवेग.

उत्तर :- (c)वेग, (d) संवेगा

78.प्राथमिक  कुण्डली में स्थिर धारा प्रवाहित होने पर द्वितीय कुण्डली में धारा का मान क्या होगा?

उत्तर शून्य।

79.धारावाही कण्डली एवं प्रेरित धारा कण्डली का क्या नाम है?

उत्तर-धारावाही कुण्डली को प्राथमिक कुण्डली एवं प्रेरित धारा कुण्डली को द्वितीयक

कुण्डली कहते हैं।

  1. कौन-सी कुण्डली चुंबकीय क्षेत्र उत्पन्न करती है?

उत्तर-प्राथमिक कुण्डली से चुंबकीय क्षेत्र उत्पन्न होता है क्योंकि यह धारावाही कुण्डली होती है।

81.कुंडली-2 में प्रेरित धारा  की प्रबलता को कौन-से कारक प्रभावित करते हैं?

 उत्तर-        (a) प्राथमिक कुण्डली में धारा की प्रबलता।

(b) प्राथमिक कुण्डली में तार के फेरों की संख्या।

  1. किसी प्रोटॉन का कौन-सा गुण किसी चुम्बकीय क्षेत्र में मुक्त गति करते समय परिवर्तित हो जाता है?

उत्तर-वेग एवं संवेगा ।

83.विद्युत धारावाही.सीधी लम्बी परिनालिका के भीतर सभी जगह चुम्बकीय क्षेत्र की प्रकृति कैसी होती है?

उत्तर-सभी बिन्दुओं पर समान होती है।

84.पश्चिम की ओर प्रक्षेपित कोई धनावेशित कण (अल्फा-कणे) किसी चुम्बकीय क्षेत्र द्वारा उत्तर की ओर विक्षेपित हो जाता है। चुम्बकीय क्षेत्र की दिशा क्या है?

उत्तर- उपरिमुखी।

Bharti bhawan class 10 physcis, bharati bhawan class 10 physics, bharati bhawan class 10 physics solution in hindi chapter 4, bharti bhawan physics class 10 in hindi, Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव
bharti bhawan physics class 10 pdf download, Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव  Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव Bharti Bhawan Class 10 विद्युत धारा का चुंबकीय प्रभाव 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.