Bihar Board 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 in Hindi

Bihar Board 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 in Hindi

बिहार बोर्ड इंटर/Matric परीक्षा 2022 के सभी विद्यार्थी के सभी विषय की सभी प्रकार के प्रश्न का प्रारूप और PDF वर्ग नोट विषयवार सभी प्रकार के study note ( MCQ , Short question long question ) Bharti Bhawan

Bihar Board Exam Multiple Choice Question

प्रश्न 1.
यदि 1 किग्रा द्रव्यमान की किसी वस्तु में 4 × 1020 परमाणु हैं। यदि ठोस के प्रत्येक परमाणु से एक इलेक्ट्रॉन को हटा दिया जाता है, तो 1 ग्राम में ठोस द्वारा प्राप्त किया गया आवेश क्या होगा?
(a) 2.8 C
(b) 6.4 × 10-2 C
(c) 3.6 × 10-3 C
(d) 9.2 × 104 C
उत्तर:
(b) 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2

प्रश्न 2.
वायु में 20 सेमी की दूरी पर रखे 1 × 10-7 C एवं 2 × 10-7 C आवेशों वाले दो छोटे आवेशित गोलों के मध्य बल होगा
(a) 4.5 × 10-2 N
(b) 4.5 × 10-3 N
(c) 5.4 × 10-2 N
(d) 5.4 × 10-3 N
उत्तर:
(b) 4.5 × 10-3 N

प्रश्न 3.
हीलियम परमाणु के नाभिक में दो प्रोटॉन हैं, जिन्हें 3.0 × 10-15 m दूरी द्वारा पृथक किया गया है। उस स्थिर वैद्युत बल का परिमाण क्या होगा जो प्रत्येक प्रोटॉन अन्य पर उत्पन्न करता है?
(a) 20.6 N
(b) 25.6 N
(c) 15.6 N
(d) 12.6 N
उत्तर:
(b) 25.6 N

प्रश्न 4.
दिये गये कूलॉम बल की क्रिया में किसी इलेक्ट्रॉन का त्वरण 2.5 × 1022 ms-2 है तो समान बल की क्रिया में किसी प्रोटीन के त्वरण का परिमाण लगभग क्या होगा?
(a) 1.6 × 10-19 ms-2
(b) 9.1 × 1031 ms-2
(c) 1.5 × 1019 ms-2
(d) 1.6 × 1027 ms-2
उत्तर:
(c) 1.5 × 1019 ms-2  

प्रश्न 5.
एक इलेक्ट्रॉन एवं एक प्रोटॉन के लिए स्थिरवैद्युत बल एवं गुरुत्वाकर्षण बल के परिणाम का अनुपात क्या है?
(a) 6.6 × 1039
(b) 2.3 × 1039
(c) 6.6 × 1029
(d) 2.3 × 1029
उत्तर:
(b) 2.3 × 1039

प्रश्न 6.
किसी बिन्दु पर विद्युत क्षेत्र होता है
(a) हमेशा सतत्
(b) यदि उस बिन्दु पर कोई आवेश नहीं हो तो सतत्
(c) यदि उस बिन्दु पर कोई आवेश हो तो असतत्
(d) (b) एवं (c) दोनों सही हैं।
उत्तर:
(d) (b) एवं (c) दोनों सही हैं।

प्रश्न 7.
एक इलेक्ट्रॉन प्रारंभ में विरामावस्था से 2 × 104 NC परिणाम के एकसमान विद्युत क्षेत्र में 1.5 cm की दूरी से गिरता है। इस दूरी से गिरने पर इलेक्ट्रॉन द्वारा लिया गया समय होगा
(a) 1.3 × 102 s
(b) 2.1 × 10-12 s
(c) 1.6 × 10-10 s
(d) 2.9 × 10-9 s
उत्तर:
(d) 2.9 × 10-9 s

प्रश्न 8.
q1 एवं q2 आवेशों वाले त्रिज्या R1 एवं R2 के दो विद्युतरोधी आवेशित गोले क्रमशः एक-दूसरे से जुड़ें हैं, तो
(a) निकाय की ऊर्जा में वृद्धि होती है।
(b) निकाय की ऊर्जा में परिवर्तन नहीं होता है
(c) ऊर्जा में हमेशा कमी होती है
(d) निकाय की ऊर्जा में तब तक कमी जब तक कि q1R2 = q2R1 न हो जाये
उत्तर:
(d) निकाय की ऊर्जा में तब तक कमी जब तक कि q1R2 = q2R1 न हो जाये

प्रश्न 9.
दो बिन्दु A एवं B क्रमशः 2 m एवं 1 m की दूरियों पर बिन्दु आवेश +2µC की व्यासतः पर इससे विपरीत दिशाओं में स्थित है। A एवं B के मध्य विभवान्तर होगा
(a) 3 × 103 V
(b) 6 × 104 V
(c) -9 × 103 V
(d) -3 × 103 V
उत्तर:
(c) -9 × 103 V

Bihar Board Exam Multiple Choice Question

प्रश्न 10.
विद्युत परिपथ में धारा के प्रवाह की दिशा होती है
(a) निम्न विभव से उच्च विभव की ओर
(b) उच्च विभव से निम्न विभव की ओर
(c) विभव के मान पर निर्भर नहीं होती है
(d) धारा, परिपथ में प्रवाहित नहीं हो सकती है
उत्तर:
(b) उच्च विभव से निम्न विभव की ओर

प्रश्न 11.
4 Ω प्रतिरोध के एक तार को 7 cm त्रिज्या की एक कुण्डली को बांधने के लिए प्रयुक्त किया जाता है। तार का व्यास 1.4 mm है तथा इसके पदार्थ का विशिष्ट प्रतिरोध 2 × 10-7 Ω m है। कुण्डली में फेरों की संख्या है
(a) 50
(b) 40
(c) 60
(d) 70
उत्तर:
(d) 70

प्रश्न 12.
किसी प्रबल चुम्बकीय क्षेत्र को स्थायी इलेक्ट्रॉन पर लगाया जाता है, तो इलेक्ट्रॉन
(a) क्षेत्र की दिशा में गति करता है।
(b) स्थायी रहता है।
(c) क्षेत्र की दिशा के लम्बवत् गति करता है।
(d) क्षेत्र की दिशा के विपरीत गति करता है।
उत्तर:
(b) स्थायी रहता है।

प्रश्न 13.
1.2 kg द्रव्यमान एवं 1 m लम्बाई वाले किसी सीधे तार में 5A की धारा बह रही है। यदि तार को एकसमान क्षैतिज चुम्बकीय क्षेत्र द्वारा मध्य वायु में लटकाया जाता है, तो क्षेत्र का परिमाण क्या होगा?
(a) 0.65 T
(b) 1.53 T
(c) 2.4 T
(d) 3.2 T
उत्तर:
(c) 2.4 T

प्रश्न 14.
चुम्बकीय आघूर्ण (\vec{m}) वाले एकसमान चुम्बकीय क्षेत्र में (\vec{B}) अधिक स्थायी स्थिति में किसी चुम्बकीय द्विध्रुव का बल आघूर्ण एवं चुम्बकीय स्थितिज ऊर्जा कया होगी?
(a) -mB, शून्य
(b) mB, शून्य
(c) शून्य, mB
(d) शून्य, -mB
उत्तर:
(d) शून्य, -mB

प्रश्न 15.
2 × 10-4 m2 अनुप्रस्थ परिच्छेद क्षेत्रफल तथा 900 फेरों की एक परिनालिका का चुम्बकीय आघूर्ण 0.6 A m2 है, तो इसमें प्रवाहित धारा होगी
(a) 2.24 A
(b) 2.34 mA
(c) 3.33 A
(d) 3.33 mA
उत्तर:
(c) 3.33 A

प्रश्न 16.
यदि 40 फेरों एवं 4 cm2 की एक कुंडली को अचानक किसी चुम्बकीय क्षेत्र से हटाया जाता है, तो यह माना जाता है कि कुंडली में 2 × 10-4 C आवेश प्रवाहित होता है, यदि कुंडली का प्रतिरोध 80 Ω हो, तो Wb m-2 में चुम्बकीय फ्लक्स घनत्व होगा
(a) 0.5
(b) 1
(c) 1.5
(d) 2
उत्तर:
(b) 1

प्रश्न 17.
0.4 m2 क्षेत्रफल की किसी कुंडली में 100 फेरे हैं। 0.04 Wb m-2 की चुम्बकीय क्षेत्र कुंडली के पृष्ठ के लम्बवत् कार्यरत है। यदि इस चुम्बकीय क्षेत्र को 0.01 s में शून्य तक कम किया जाता है, तो कुंडली में प्रेरित वि.वा. बल होगा
(a) 160 V
(b) 250 V
(c) 270 v
(d) 320 V
उत्तर:
(a) 160 V

प्रश्न 18.
निम्न में से किस परिपथ में व्यय की गई अधिकतम शक्ति को प्रेक्षित किया गया है?
(a) शुद्ध धारिता परिपथ
(b) शुद्ध प्रेरकीय परिपथ
(c) शुद्ध प्रतिरोधी परिपथ
(d) इनमें से कोई नहीं
उत्तर:
(c) शुद्ध प्रतिरोधी परिपथ

प्रश्न 19.
एक 100 Ω के प्रतिरोधक को 220 V, 50 Hz की ए.सी. सप्लाई से जोड़ा जाता है। परिपथ में धारा का वर्गमाध्यमूल मान क्या होगा?
(a) 1.56 A
(b) 1.56 mA
(c) 2.2 A
(d) 2.2 mA
उत्तर:
(c) 2.2 A

Bihar Board Exam Multiple Choice Question

प्रश्न 20.
समानान्तर प्लेट संधारित्र पर आवेश q = q0 cos2πvt के रूप में परिवर्तित होता है। प्लेटें बहुत बड़ी तथा एक-दूसरे के निकट हैं (क्षेत्रफल = A, दूरी = d)। संधारित्र में से विस्थापन धारा क्या होगी?
(a) q0 2πv sin πvt
(b) -q0 2πv sin πvt
(c) q0 2π sin πvt
(d) q0 2π sin 2πvt
उत्तर:
(b) -q0 2πv sin πvt

प्रश्न 21.
प्लेटों के बीच की दूरी d तथा प्लेट क्षेत्रफल A वाले एक समानान्तर प्लेट संधारित्र को नियत धारा I से आवेशित किया जाता है। माना A/2 क्षेत्रफल का समतल पृष्ठ प्लेटों के समानान्तर तथा प्लेटों के बीच रखा है। क्षेत्रफल में विस्थापन धारा होगी
(a) I
(b) \frac{I}{2}
(c) \frac{I}{4}
(d) \frac{I}{8}
उत्तर:
(b) \frac{I}{2}

प्रश्न 22.
वक्रता त्रिज्या 20 cm के उत्तल दर्पण से किसी वास्तविक वस्तु के प्रतिबिम्ब की अधिकतम दूरी क्या हो सकती है?
(a) 10 cm
(b) 20 cm
(c) अनन्त
(d) शून्य
उत्तर:
(a) 10 cm

प्रश्न 23.
2 cm ऊँची एक वस्तु को अवतल दर्पण से 16 cm की दूरी पर रखा जाता है, तो 3 cm ऊँचा वास्तविक प्रतिबिम्ब बनाती है। दर्पण की फोकस दूरी क्या है?
(a) -9.6 cm
(b) -3.6 cm
(c) -6.3 cm
(d) -8.3 cm
उत्तर:
(a) -9.6 cm

प्रश्न 24.
प्रकाश किसके कारण सीधी रेखा के अनुरूप (Rectilinearly) गमन करता है?
(a) तरंग प्रकृति
(b) तरंगदैर्घ्य
(c) वेग
(d) आवृत्ति
उत्तर:
(a) तरंग प्रकृति

प्रश्न 25.
दूरस्थ तारे से आने वाली वर्णक्रमी रेखा की तरंगदैर्घ्य 600 pm से 600.1 nm तक विस्थापित हो जाती है। पृथ्वी के सापेक्ष तारे का वेग होगा
(a) 50 km s-1
(b) 100 km s-1
(c) 25 km s-1
(d) 200 km s-1
उत्तर:
(a) 50 km s-1

प्रश्न 26.
किसी निश्चित प्रयोग से प्रकाशविद्युत संस्तब्ध वोल्टेज 1.5 V है। उत्सर्जित फोटोइलेक्ट्रॉन की अधिकतम गतिज ऊर्जा होगी
(a) 2.4 ev
(b) 1.5 ev
(c) 3.1 ev
(d) 4.5 ev
उत्तर:
(b) 1.5 ev

प्रश्न 27.
प्रकाशविद्युत उत्सर्जन की घटना को 1887 में किसके द्वारा खोजा गया?
(a) एलबर्ट आइन्स्टीन
(b) हेनरिच ह
(c) विल्हेम हालवेक्स
(d) फिलिप लेनार्ड
उत्तर:
(b) हेनरिच ह

प्रश्न 28.
किसी हाइड्रोजन परमाणु में गतिज रूप से स्थायी कक्षा के लिए कक्षीय त्रिज्या एवं इलेक्ट्रॉन वेग के मध्य सम्बन्ध होता है-(जहाँ, सभी संकेतों के अपने अर्थ हैं)
(a) v=\sqrt{\frac{4 \pi \varepsilon_{0}}{m e^{2} r}}
(b) v=\sqrt{\frac{e^{2}}{4 \pi \varepsilon_{0} v}}
(c) v=\sqrt{\frac{e^{2}}{4 \pi \varepsilon_{0} m r}}
(d) r=\sqrt{\frac{v e^{2}}{4 \pi \varepsilon_{0} m}}
उत्तर:
(c) v=\sqrt{\frac{e^{2}}{4 \pi \varepsilon_{0} m r}}

प्रश्न 29.
गीगर-मार्सडन प्रकीर्णन प्रयोग में, α-कण के द्वारा अनुरेख किया गया प्रक्षेप पथ (Trajectory) किस पर निर्भर करता है?
(a) संघट्ट की संख्या
(b) प्रकीर्णित -कणों की संख्या
(c) संघट्ट प्राचल
(d) इनमें से कोई नहीं
उत्तर:
(c) संघट्ट प्राचल

Bihar Board Exam Multiple Choice Question

प्रश्न 30.
इलेक्ट्रॉन प्रकीर्णन के द्वारा मापे गये गोलीय नाभिक की त्रिज्या 3.6 fm है। नाभिक की सर्वाधिक संभावित द्रव्यमान संख्या क्या होगी?
(a) 27
(b) 40
(c) 56
(d) 120
उत्तर:
(a) 27

प्रश्न 31.
1g पदार्थ के समतुल्य ऊर्जा होती है
(a) 9 × 1013 J
(b) 6 × 1012 J
(c) 3 × 1013 J
(d) 6 × 1013 J
उत्तर:
(a) 9 × 1013 J

प्रश्न 32.
आबन्धन का वह प्रकार जो विद्युत के अच्छे चालकों में होता है
(a) वान्डर वाल
(b) सहसंयोजी
(c) आयनिक
(d) धात्विक
उत्तर:
(d) धात्विक

प्रश्न 33.
एक नैज अर्धचालक प्रतिरोधक कमरे के ताप पर 0.50 Ωm है। यदि इलेक्ट्रॉनों एवं होलों की गतिशीलताएँ क्रमशः 0.39 m2 V-1 s-1 एवं 0.11 m2 V-1 s-1 हैं, तो नैज वाहक सान्द्रता क्या होगी?
(a) 1.2 × 1018 m-3
(b) 2.5 × 1019 m-3
(c) 1.9 × 1020 m-3
(d) 3.1 × 1021 m-3
उत्तर:
(b) 2.5 × 1019 m-3 

प्रश्न 34.
किसी माध्यम में संचरण के समय सिग्नल की सामर्थ्य की हानि है
(a) अभिग्रहण (Reception)
(b) अवशोषण
(c) प्रेषण
(d) क्षीणन
उत्तर:
(d) क्षीणन

प्रश्न 35.
विद्युत परिपथ का प्रयोग करके किसी सिग्नल की बढ़ती हुई सामर्थ्य की विधि को कहते हैं
(a) प्रवर्धन
(b) मॉडुलन
(c) डिमॉडुलन
(d) प्रेषण
उत्तर:
(a) प्रवर्धन

12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2

Bihar Board Exam Multiple Choice Question

12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2
12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2 12th Physics VVI Objective Questions Model Set 2

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *