NCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण  पाठ के प्रश्नों के हल

NCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण  पाठ के प्रश्नों के हल

NCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण  पाठ के प्रश्नों के हल

प्रश्न : 1. वायु में जलाने से पहले मैग्नीशियम रिबन को साफ क्यों किया जाता है?

उत्तर: मैग्निशियम के खुले में रखे होने से हवा में उपस्थित ऑक्सीजन से प्रतिक्रिया कर मैग्निशियम ऑक्साइड बनाता है, जिसकी परत मैग्निशियम पर चढ़ जाती है। मैग्निशियम ऑक्साइड की परत मैग्निशियम को पुन: ऑक्सीजन से प्रतिक्रिया करने से रोकती है। अत: मैग्निशियम रिबन को वायु में जलाने से पहले उसपर से मैग्निशियम ऑक्साइड की परत को हटाने के लिये साफ किया जाता है।

प्रश्न: 2. निम्नलिखित रासायनिक अभिक्रयाओं के लिए संतुलित समीकरण लिखिए:

(i) हाइड्रोजन + क्लोरीन → हाइड्रोजन क्लोराइड

उत्तर:

NCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हल

(ii) बेरियम क्लोराइड + एल्युमिनियम सल्फेट → बेरियम सल्फेट + एल्युमिनियम क्लोराइड

उत्तर:

NCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हल

(iii) सोडियम + जल → सोडियम हाइड्रोक्साइड + हाइड्रोजन

उत्तर:

2.3

प्रश्न : 3 . निम्नलिखित अभिक्रियाओं के लिए उनकी अवस्था के संकेतों के साथ संतुलित रासायनिक समीकरण लिखिए:

(i) जल मे बेरियम क्लोराइड तथा सोडियम सल्फेट के विलयन अभिक्रिया करके सोडियम क्लोराइड का विलयन तथा अघुलनशील बेरियम सल्फेट का अवक्षेप बनता है।

उत्तर:

3.1

(ii) सोडियम हाइड्रोक्साइड का विलयन (जल में) हाइड्रोक्लोरिक अम्ल के विलयन (जल में) से अभिक्रिया करके सोडियम क्लोराइड का विलयन तथा जल बनाते हैं।

उत्तर:

3.2

प्रश्न : 4. किसी पदार्थ ‘X’ के विलयन का उपयोग सफेदी करने के लिए होता है।

(i) पदार्थ ‘X’ का नाम तथा इसका सूत्र लिखिए।

उत्तर:

सफेदी के लिए कली चूना (Quick Line) का उपयोग होता है। कली चूना का जिसका रासायनिक नाम कैल्शिय ऑक्साइड तथा सूत्र CaOCaO है।

पदार्थ ‘X’ का नाम कली चूना [Calcium Oxide (CaO)] है।

(ii) उपर (i) में लिखे पदार्थ ‘X’ की जल के साथ अभिक्रिया लिखिए।

उत्तर:

Calcium Oxide (CaO) (कली चूना) जल के साथ प्रतिक्रिया कर Calcium hydroxide (Ca(OH)2) बनाता है।

4

Calcium hydroxide को बुझा हुआ चूना (Slaked Lime) कहा जाता है।

प्रश्न : 5. क्रिया कलाप 1.7 में एक परखनली में एकत्रित गैस की मात्रा दूसरी से दोगुनी क्यों है? उस गैस का नाम बताइए।

उत्तर:

पाठ के क्रियाकलाप 1.7 में जल का electrolysis (वैद्युत अपघटन) किया गया है।

ज़ब जल में विद्युत धारा (electric current) प्रवाहित की जाती है, तो जल हाइड्रोजन (H2) तथा ऑक्सीजन (O2) में टूट जाता है। क्रिया कलाप 1.7 में एक परखनली में हाइड्रोजन (H2) तथा दूसरी में ऑक्सीजन (O2) गैस जमा होती है।

चूँकि जल (H2O) में हाइड्रोजन (Hydrogen) तथा ऑक्सीजन (Oxygen) का अनुपात 1:2 है, अत: क्रिया कलाप 1.7 में एक परखनली में एकत्रित हाइड्रोजन (Hydrogen) की मात्रा दूसरे परखनली में एकत्रित ऑक्सीजन (Oxygen) की मात्रा से दोगुनी है।

प्रश्न : 6. जब लोहे की कील को कॉपर सल्फेट के विलयन में डुबोया जाता है तो विलयन का रंग क्यों बदल जाता है?

उत्तर:

जब लोहे की कील को कॉपर सल्फेट के विलयन में डुबोया जाता है, तो विस्थापन की प्रतिक्रिया होती है। इसमें Iron, कॉपर को कॉपर सल्फेट से विस्थापित कर देता है तथा Ferrous sulphate बनाता है। जिसके कारण विलयन का रंग बदल जाता है।

6

प्रश्न : 7. क्रियाकलाप 1.10 से भिन्न द्विस्थापन अभिक्रिया का एक उदाहरण दीजिए।

उत्तर:

जब Silver Nitrate (सिल्वर नाइट्रेट), Sodium Chloride (सोडियम क्लोराइड) के साथ प्रतिक्रिया करता है, तो Silver chloride (सिल्वर क्लोराइड) तथा Sodium nitrate (सोडियम नाइट्रेट) बनता है।

7

Silver nitrate से Silver को विस्थापित करता है। अत: यह द्विस्थापन अभिक्रिया का एक उदाहरण है।

प्रश्न : 8. निम्न अभिक्रियाओं उपचयित तथा अपचयित पदार्थों की पहचान कीजिए:

(i) 4Na(s) + O2(g) → 2Na2O(s)

(ii) CuO(s) + H2(g) → Cu(s) + H2O(l)

उत्तर:

अभिक्रिया के क्रम में किसी एटम, अणु या आयन के द्वारा Oxygen प्राप्त करने या hydrogen का त्याग करने पर उसका ऑक्सीकरण (oxidation) होता है, तथा वह ऑक्सीकृत अर्थात उपचयित (Oxidised) हो जाता है।

तथा अभिक्रिया के क्रम में जिस एटम, अणु या आयन के द्वारा Oxygen का त्याग या हटना या hydrogen का प्राप्त करन अवकरण या उपचयन (Reduction) कहलाता है, तथा वह एटम, अणु या आयन अवकरित या अपचयित (Reduced) हो जाता है।

(i) 4Na(s) + O2(g) → 2Na2O(s)

इस अभिक्रिया में Sodium, oxygen प्राप्त कर sodium oxide बनाता है। अत: यहाँ Sodium का उपचयन होता है, अर्थात Sodium उपचयित होता है। वहीं दूसरी ओर Oxygen अपचयित होता है।

(ii) CuO(s) + H2(g) → Cu(s) + H2O(l)

इस अभिक्रिया में Copper Oxide से Oxygen हटकर Copper बनता है, वहीं दूसरी ओर Hydrogen में ऑक्सीजन जुड़कर Water (H2O) बनता है।

अत: इस अभिक्रिया में Copper का अपचयन (Reduction) तथा Hydrogen (हाइड्रोजन) का उपचयन (Oxidation) होता है।

अत: दिये गये अभिक्रिया में Copper अपचयित (Reduced) तथा Hydrogen उपचयित (Oxidised) होता है।

NCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हलNCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हलNCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हलNCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हलNCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हलNCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हलNCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हलNCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हलNCERT Class 10 रासायनिक अभिक्रियाएँ एवं समीकरण पाठ के प्रश्नों के हल

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *